मुख्य सामग्री पर जाएं
स्क्रीन रीडर एक्सेस
गुरुवार, 30 मार्च 2023
मुख्य समाचार:

दुर्ग : संभागायुक्त दुर्ग संभाग श्री कावरे ने जिला पंचायत एवं तहसील कार्यालय दुर्ग में दी दबिश, अनुपस्थितों पर गिरी गाज, तहसील कार्यालय में राजस्व प्रकरणों के निराकरण में तेजी लाने हेतु दिए स्पष्ट निर्देश

दुर्ग

दुर्ग 30 जनवरी 2023

श्री महादेव कावरे, संभागायुक्त दुर्ग संभाग द्वारा  जिला के मुख्यालय अनुविभागीय अधिकारी कार्यालय, तहसील कार्यालय एवं जिला पंचायत कार्यालय का औचक निरीक्षण किया।श्री कावरे द्वारा सर्वप्रथम जिला पंचायत दुर्ग में सुबह 10ः30 बजे अचानक दबिश दी गई, निरीक्षण के समय कार्यालय में कुल 06 अधिकारी व कर्मचारी अनुपस्थित पाए गए। अनुपस्थित कर्मचारियों श्री फत्ते सिंह राजपूत, श्री डी.एस. राजपूत, श्री रविशंकर नामदेव, श्री बिरेन्द्र देवांगन, श्री थानेश्वर चन्द्राकर को कारण बताओ नोटिस साथ ही 01 दिन के वेतन काटे जाने के निर्देश दिए गए। पंचायत विभाग दुर्ग में पदस्थ अधिकारी सहायक संचालक श्रीमती काव्या जैन को भी अनुपस्थित पाए जाने पर कारण बताओ नोटिस जारी किया गया।          
     निरीक्षण के दौरान श्री कावरे ने सभी शाखाओं में जाकर अभिलेखो की जाँच की, स्थापना शाखा में सेवा पुस्तिका का अवलोकन किया जिस पर नॉमिनेशन प्रपत्र सक्षम अधिकारी द्वारा अभिप्रमाणि नही होना पाया गया साथ ही कुछ कर्मचारियों का सामान्य भविष्य निधि पासबुक अद्यतन नही होना पाए जाने पर नाराजगी व्यक्त की गई। संभागायुक्त ने रोकड़ बही संधारित करने एवं अनुदान पंजी संधारित किए जाने के निर्देश सबंधित कर्मचारी को दिए। उन्होंने सभी कर्मचारियों के टेबल पर नाम पट्टिका आवश्यक रूप से रखे जाने के भी निर्देश दिए।
 रीपा योजना के तहत प्रगति के संबंध में की गई चर्चाः-
    श्री कावरे ने निरीक्षण के दौरान विभिन्न योजनाओं की प्रगति के संबंध में चर्चा की जिस पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री अश्विनी देवांगन द्वारा केन्द्र एवं राज्य प्रवर्तित योजनाओं के साथ ही रीपा के तहत किए जा रहे कार्यों एवं आगामी कार्ययोजना के संबंध में अवगत कराया गया।
 राजस्व मामलो के निराकरण में लाए तेजी, प्रतिलिपि प्रदाय करने का समय हो निर्धारितः
    तहसील कार्यालय के निरीक्षण के दौरान संभागायुक्त श्री कावरे ने न्यायालय अनुविभागीय अधिकारी एवं न्यायालय तहसीलदार एवं न्यायालय नायब तहसीलदार में लंबित न्यायालयीन प्रकरणों की अधिक संख्या पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए संबंधित तहसीलदार श्रीमती प्रेरणा सिह एवं नायब तहसीलदारो को सुनवाई हेतु अधिक संख्या में प्रकरण लगाए जाने के निर्देश दिए साथ ही न्यायालय में सुनवाई हेतु निश्चित समय निर्धारित करने के निर्देश दिए।
    संभागायुक्त द्वारा अनुविभागीय अधिकारी श्री मुकेश रावटे को कार्यालय में प्रतिलिपि के संबंध में आवेदन प्राप्त किए जाने एवं प्रतिलिपि प्रदाय करने हेतु समय निर्धारित करने के सबंध में निर्देशित किया। संभागायुक्त ने नाजिर शाखा, डब्ल्यू बी एन शाखा, कानूनगो शाखा के निरीक्षण के दौरान संधारित किए जाने वाले विभिन्न पंजीयो का अवलोकन किया, जिस दौरान उन्होने कोटवारी पंजी, बी-4, वर्गीकरण पंजी, पटेली पंजी का अवलोकन किया, प्रतिलिपि शाख में लंबित आवेदनो केे त्वरित निराकरण हेतु संबंधित लिपिक श्रीमती प्रीति भगत एवं अनुविभागीय अधिकारी को निर्देशित किया साथ ही पटवारी श्री पुरूषोत्तम साहू एवं श्री चन्द्रमोहन साव की सेवा पुस्तिका की जॉंच की।
 अधिवक्ताओं एवं आम जनता से की चर्चाः- संभागायुक्त श्री कावरे ने तहसील कार्यालय में आम जनता से उनकी समस्याओं के संबंध में चर्चा की साथ ही अधिवक्ताओं से भी न्यायलयीन प्रकरणों के निराकरण के संबंध में चर्चा की जिस पर उपस्थित अधिवक्ताओं द्वारा न्यायालय के कार्य पर संतुष्टता व्यक्त की गई। श्री कावरे ने न्यायालय के आदेश की प्रति ऑनलाइन में भी अपलोड कराए जाने के निर्देश दिए जिससे कि आम जनता न्यायालयीन प्रकरणों की अद्यतन स्थिति ऑनलाइन के माध्यम से भी देख सके।