मुख्य सामग्री पर जाएं
स्क्रीन रीडर एक्सेस
गुरुवार, 30 मार्च 2023
मुख्य समाचार:

महासमुंद  : 2222 मितानिन व 300 पुरुष स्वास्थ्य अमला टीबी एवं कुष्ठ रोग खोज अभियान में जुटा

31 दिसम्बर तक चलेगा अभियान

महासमुंद 01 दिसम्बर 2022

राज्य शासन के निर्देशानुसार टीबी एवं कुष्ठ रोग के उन्मूलन के लिए समुदाय में प्रत्येक मरीज की पहचान कर जांच एवं उपचार हेतु जिले में पहले चरण में 1 दिसंबर से 21 दिसंबर 2022 तक सघन टीबी एवं कुष्ठ खोज अभियान चलाया आज गुरुवार से शुरू हो गया है। इस अभियान में ज़िले के 2222 मितानिन व 300 पुरुष स्वास्थ्य अमले द्वारा घर-घर भ्रमण कर टीबी एवं कुष्ठ के संभावित मरीजों की पहचान कर उनका जांच कर एवं धनात्मक मरीजों का उपचार किया जाएगा। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एस.आर. बंजारे ने बताया कि खोज अभियान के लिए मितानिनों के द्वारा अपने कार्यक्षेत्र में 1 दिसंबर से 15 दिसंबर के दौरान घर-घर भ्रमण कर टीबी एवं कुष्ठ रोग के लक्षण के आधार पर संभावित मरीजों की पहचान की जाएगी। 16 दिसंबर से 21 दिसंबर 2022 के दौरान मितानिन द्वारा खोजे गए शंकास्पद टीबी एवं कुष्ठ के मरीजों का पुनः परीक्षण संबंधित क्षेत्र के एमपीडब्ल्यू एवं एनएमए द्वारा किया जाएगा। प्रत्येक घर जाकर सभी व्यक्तियों में लक्षणों का पता लगाया जाएगा। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के सचिव श्री प्रसन्ना आर. ने सभी जिलों के कलेक्टर को परिपत्र जारी कर अभियान के संबंध में विस्तृत दिशा-निर्देश दिए हैं।
डॉ. एस.आर. बंजारे ने ज़िले के नागरिकों से अपील की है कि जिन्हें दो सप्ताह से अधिक समय से खांसी है, सामान्य उपचार से ठीक नहीं हो रही है। शाम को हल्का बुखार आना, वजन घटना, भुख नहीं लगना, कफ में खून आना आदि लक्षण है, तो क्षय रोग हो सकता है। इसी प्रकार ऐसे व्यक्ति जिसके शरीर में किसी भी प्रकार के दाग-धब्बे में सुन्नपन लिए हुए उभार हुआ तैलियां चमक लिए हुए आदि है तो कुष्ठ रोग हो सकता है। ऐसे व्यक्ति घर पर आए मितानिन और स्वास्थ्य अमले को जानकारी अवश्य दें और निकट स्वास्थ्य केन्द्र में जाकर जांच करवाएं।
क्रमांक/01/578